Sacchi Baatein

50+ Best Sacchi Baatein in Hindi । सच्ची बातें। Sachi Baate Shayari

Share this 👇

सच्ची बातें (Sacchi Baatein in Hindi) : हमारा जीवन कई तरह के उलझनों से घिरा हुआ है। हमारे जीवन में कुछ ऐसी घटनाएँ होती है, जो हमें बहुत कुछ सिखाती है। इसलिए आज के इस पोस्ट में हम आपके लिए जीवन की सच्ची बातें (Jeevan Ki Sacchi Baatein) पर आधारित कुछ कुछ पंक्ति लेकर आये हैं। जो आपको बेहद पसंद आएगा।

Sacchi Baatein in Hindi । सच्ची बातें

Zindagi Ki Sachi Baatein, Sacchi Baatein, Sacchi Baatein Images

Zindagi Ki Sachi Baatein

किसी से हद से ज्यादा उम्मीद लगाओगे तो,
एक दिन उस उम्मीद के साथ खुद भी टूट जाओगे।

Kisi Se Had Se Jyada Umeed Lagaoge To,
Ek Din Us Umeed Ke Saath Khud Bhi Toot Jaoge.

Sacchi Baatein

जिंदगी में सबसे ज्यादा दर्द,
दिल टूटने पर नहीं,
यकीन टूटने पर होता है।

Zindagi Mein Sabse Jyada Dard,
Dil Tootne Par Nahi,
Yakeen Tootne Par Hota Hai.

Jeevan Ki Sacchi Baatein

दुश्मन इतनी आसानी से,
कहाँ मिलते हैं?
बहुत लोगों का,
भला करना पड़ता है।

Dushman Itni Aasani Se,
Kahan Milte Hain?
Bahut Logon Ka,
Bhala Karna Padta Hai.

Sacchi Baatein Images in Hindi, Sacchi Baatein Status

Sacchi Baatein Images in Hindi

दर्द का मतलब उससे पूछो,
जिनको आधी रात को भूख लगती है।

Dard Ka Matlab Usse Puchoo,
Jinko Aadhi Raat Ko Bhookh Lagti Hai.

Sachi Baatein Shayari

नसीब का प्यार और गरीब की दोस्ती,
कभी धोखा नहीं देती।

Naseeb Ka Pyaar Aur Gareeb Ki Dosti,
Kabhi Dhokha Nahi Deti.

Sachi Baatein in Hindi

वक्त तो वक्त पर बदलता है,
इंसान तो किसी भी वक्त बदल जाता है।

Waqt To Waqt Par Badalta Hai.
Insaan To Kisi Bhi Waqt Badal Jaata Hai.

Zindagi Ki Sachi Baatein, Jeevan Ki Sacchi Baatein

Zindagi Ki Sachi Baatein

सब बदल जाते हैं,
यार भी, प्यार भी।
बस एक माँ-बाप की मोहब्बत नहीं बदलती।

Sab Badal Jaate Hain,
Yaar Bhi, Pyaar Bhi.
Bas Ek Maa Baap Ki,
Mohabbat Nahi Badalti.

वो जमाना अब नहीं रहा दोस्तों,
जब लोगों को किसी से बिछड़कर,
अफसोस होता है।

Wo Jamana Ab Nahi Raha Doston.
Jab Logon Ko Kisi Se Bichadkar,
Afsos Hota Hai.

Sachi Baatein Quotes in Hindi

साफ दिल के इंसानों के साथ,
ना जाने क्यों लोग,
खेलने की हद तक खेल जाते हैं।

Saaf Dilo Ke Insaan Ke Saath,
Naa Jane Kyon Log?
Khelne Ki Had Tak Khel Jaate Hain.

वक्त और अपने,
जब दोनों एक साथ चोट पहुचाएँ। तो,
इंसान बाहर से ही नहीं,
अन्दर से भी टूट जाता है।

Waqt Aur Apne,
Jab Dono Ek Saath Chot Pahuchaen.
To Insaan Bahar Se Hi Nahi,
Andar Se Bhi Toot Jaata Hai.

ये भी जरुर पढ़े-

Share this 👇